रोडवेज के राजस्व की हानि कराने में अहम भूमिका निभा रहा परिवहन विभाग

जन एक्सप्रेस/मुशीर
लखीमपुर खीरी।
एआरटीओ और प्रशासन की अनदेखी के कारण सड़कों पर दौड़ रहे वाहन जहां सवारियों की जान जोखिम में डालकर वाहन चालक मोटा मुनाफा कमाने की होड़ में लगे हुए हैं तो वहीं वाहनों के कारण हो रही सड़क दुर्घटनाओं में लोगों की मौत होने के बाद भी पुलिस और परिवहन विभाग इन वाहन चालकों पर कार्रवाई नहीं कर रही है।शहर में परिवहन विभाग के अधिकारी केवल हेलमेट पर चालान काटने में ही मस्त है और शासन को गुमराह करके अपनी अवैध कमाई का जरिया चला रहे हैं।शहर के हर चौराहे पर निजी बसों का संचालन लगातार बदस्तूर जारी है और परिवहन विभाग के अधिकारी इनको चलवाने में अपनी अहम भूमिका भी निभा रहे है।ऐसा नहीं है कि विभाग के अधिकारी यह जानते नहीं है लेकिन कार्रवाई केवल मोटर साईकिल सवारों पर करके इतिश्री कर रहे है।परिवहन विभाग के अधिकारी राज्य सरकार के राजस्व को भी क्षति पहुंचा रहे है।प्रत्येक दिन सैकडों निजी बसों का संचालन हो रहा है जिससे रोडवेज की बसों में सवारियां कम मिल पाती हैं जिससे सरकारी राजस्व की हानि लाखों रूपयों में हो रही है।लखीमपुर जनपद के विभिन्न मार्गों पर क्षमता से अधिक सवारियां भरकर डग्गामार वाहन दौड़ रहे हैं।आए दिन यह वाहन पलट भी जाते हैं।इससे लोगों की मौत हो जाती है और कई यात्री घायल भी हो जाते हैं।तेजगति से दौड़ने वाले डग्गामार वाहनों पर अंकुश लगाए जाने के लिए न तो अधिकारी गंभीर है और न ही पुलिस कोई कार्रवाई करती नजर आ रही है।सबसे हैरत की बात यह है कि शहर की विभिन्न चौकीयों पर पुलिस के सामने से ही रोजाना कई वाहन क्षमता से अधिक सवारियां भरकर व पीछे लटकाकर दौड़ते नजर आते हैं।पुलिस वाहनों को देख तो लेती है और मन ही मन खुश भी हो लेती हैं,लेकिन कार्रवाई नहीं की जा रही है।यदि समय रहते पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो यह डग्गामार किसी न किसी दिन न जाने कितने यात्रियों की मौत का कारण बन जाऐंगे।इस आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *