तहसील की मेन रोडों की बदहाल दशा बढ़ा रही है दुर्घटनाएं गड्ढा मुक्त के नाम पर हो रही खानापूर्ति

जन  एक्सप्रेस/डीपी मिश्रा।
पलियाकलां-खीरी।
प्रदेश सरकार सूबे में गड्ढा मुक्त रोड अध्ययन जोरशोर से चलाने का ढिंढोरा पीट रही है। लेकिन तहसील इलाका के राज्य मार्ग जर्जर दशा में लोगों का उपहास उड़ाकर सरकारकी कलई खिल रहे हैं। पलिया से निघासन जाने वाला राज्य मार्ग अथवा पलिया से भीरा होकर लखीमपुर या फिर  शाहजहांपुर जाने वाला राज्य मार्ग हो दोनों की दशा एक समान है।जिनमे जगह -जगह लम्बे चौड़े गहरे गड्ढे दुर्घटना का कारण बने हुए लोगो का मुंह चिड़ा रहे हैं। साथ ही प्रदेश सरकार के गड्डामुक्त रोड के दावों की कलई भी खोल रहे हैं। जीर्ण शीर्ण व जजर्र रोड होने से अक्सर हो रही दुर्घटानाओ में में लोग असमय कालकवलित हो रहे हैं।राज्य मार्गों की बदहाल दशा देखकर अगर कहा जाए कि सड़क में गड्ढे नही गद्दों में सड़क है तो गलत नहीं होगा।गड्डामुक्त अधियाँ में पीडब्लूडी केवल गड्डों मे कनक्कड़-बजरी डालकर  महज खानापूर्ति कर रहा है, जिसे देखने के लिए जिला प्रशासन का कोई भी जिम्मेदार अफसर कोई जहमत नही उठारहे हैं।इससे दुर्घटानाओ के ग्राफ ऊपर बढ़ता जा रहा है।नागरिको को पत्र भेजकर अब हुए रोड के निर्माण की जांच करवाकर जल्दी ही उपरोक्त राज्य मार्गो  की मरम्मत करवाये जाने   की मांग की है।पलिया से मझगई सडक काफी दिनो से खराब है जिसमें जानलेवा गड्ढे है उस पर आने जाने लोगों का अक्सर एक्शीडेन्ट होता है लोग चोटिल होते और मरते इसकी खबर अखबारों मे भी प्रमुखता से छापी गई जिस पर पी डब्ल्यू डी ने सडक मरम्मत हेतु बजडी डाला एक आध गड्ढे को भरा एक दो दिन बरसात हुई और सब कार्य ठप्प हो गया सब भृष्टाचार की भेंट चढ गया अब उस सडक का कोई सुध लेने वाला नही उस सडक पर हमारे माननीय सांसद विधायक भी निकलते किंतु महगी गाड़ी मे गड्ढों का पता नही चलता नही तो उनकी दोनों जगह सरकार है इस सडक का हाल नही होता उनके परिचित /वफादार उनको सडक के गड्ढों के बारे बता दें तो सायदपीडब्ल्यूडी विभाग से वर्तालाप करके सडक़ के गड्ढे भरा दिये जाये तो लोगो को  कुछ राहत मिल सकती है। में रोडो की बदहाल दशा से परेशान नागरिकों ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर निर्माण कार्य की जांच करवाएं जाने संग रोडों की मरम्मत करवाये जाने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *