थारुओं ने एसडीएम को ज्ञापन देकर वनाधिकार कानून के अनुसार अधिकार पत्र दिए जाने की मांग

जन एक्सप्रेस/डीपी मिश्रा।
पलियाकलां-खीरी।
तहसील इलाका के आदिवासी थारू जनजाति के लोगों ने तहसील पहुंचकर एसडीएम को ज्ञापन दिया। जिसमें। वनाधिकार  प्रस्तावों का निस्तारण कर अधिकार पत्र दिलवाए जाने की मांग की है। साथ ही  चेतावनी दी है कि यथाशीघ्रसमस्या का समाधान नही किया गया तो जनवादी तरीक़े से तीन नवम्बर के बाद आंदोलन शुरू कर दिया जाएगा, जिसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। उल्लेखनीय है कि बनाधिकार कानून2006 के अनुसार पलिया रहसिल क्षेत्र के थारू बहुल गांवों के रहने वाले दर्जनों आदिवासी थारू एवं वन क्षेत्र पर आश्रित लोगों ने वनाधिकार कानून 2006 नियमावली 2008 संशोधन 2012 के तहत पलिया वन क्षेत्र की ग्राम वनाधिकार समितियों द्वारा उपखंड समिति के समक्ष प्रस्तुत किए गए थे। दावा प्रस्तावों के निस्तारण कराये जाने के संदर्भ में उप जिलाधिकारी पलिया को ज्ञापन सौंपकर अधिकार पत्र दिलाने की मांग की तथा चेतावनी देते हुये कहा कि यदि 6 अक्टूबर 2020 तक जमा दावों का निस्तारण 3 नवंबर तक नहीं किया गया तो वनाश्रित समाज के लोग जनवादी तरीके से आंदोलन करने को मजबूर होंगे। जिसकी जिम्मेदारी शासन प्रशासन सहित उपखंड स्तरीय वनाधिकार समिति और वनविभाग और उप जिलाधिकारी तथा तहसीलदार पलिया की होगी। करीब 4 दर्जन महिलाओं के साथ वन जन श्रमजीवी मंच के रजनीश और रामचंद्र राणा के नेतृत्व में थारू क्षेत्र की महिलाओं ने प्रदर्शन करते हुये पलिया एसडीएम डा.अमरेश कुमार को ज्ञापन सौंपते हुये तीन नवम्बर तक का समय देते हुये दावा प्रस्तावो के अधिकार पत्र के पूर्णकर वितरित कराने को कहा इस मौके पर रामचंद्र राना, (ग्राम सूरमा )बाबू राम, (बैरिया) लालमन(छिदिया पश्चिम), रामचंद्र (बंदरभरारी )सहित 4 दर्जन से अधिक थारू समुदाय के महिला और पुरुष मौजूद रहे।Attachments area

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *