वन्य जीव एवं पर्यावरण संरक्षण सप्ताह में आयोजित प्रतियोगिता के प्रतिभागियों को किया गया

सम्मानितसदर विधायक पलटू राम व जिला वन अधिकारी ने किया सम्मानित

बलरामपुर । जनपद बलरामपुर के सुहेलवा वन्य जीव प्रभाग द्वारा मनाए गए वन्य जीव एवं पर्यावरण संरक्षण सप्ताह के तहत बच्चों के अंदर पर्यावरण तथा वनों के प्रति रुचि बढ़ाने के उद्देश्य से ऑनलाइन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में स्केच प्रतियोगिता, स्लोगन प्रतियोगिता तथा कला प्रतियोगिता प्रमुख रूप से सम्मिलित किया गया, जिसमें जूनियर एवं सीनियर ग्रुप के बच्चों ने प्रतिभाग किया। वन विभाग द्वारा आयोजित ऑनलाइन प्रतियोगिता में जिला मुख्यालय के अंग्रेजी माध्यम विद्यालय पायनियर पब्लिक स्कूल एंड कॉलेज के कई विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया । प्रतियोगिता में प्रतिभाग  करने वाले मेधावी छात्र छात्राओं का हौसला अफजाई करने के लिए पायनियर पब्लिक स्कूल परिसर में सम्मान समारोह आयोजित किया गया । कार्यक्रम कोविड-19 के गाइडलाइन को ध्यान में रखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करते हुए आयोजित हुआ ।कार्यक्रम में सम्मिलित होने के लिए मास्क तथा सेनीटाइजर  अनिवार्य किया गया था। प्रतिभा सम्मान कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि सदर विधायक पलटू राम व विशिष्ट अतिथि जिला वन अधिकारी रजनीकांत मित्तल तथा पर्यावरणविद डॉ नागेंद्र सिंह द्वारा किया गया । 
                     जानकारी के अनुसार सोहेला वन्यजीव प्रभाग द्वारा मनाए गए वन्य जीव एवं पर्यावरण संरक्षण सप्ताह के तहत आयोजित ऑनलाइन प्रतियोगिता में विद्यालय के तमाम छात्र छात्राओं ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया । जिन प्रतिभागियों ने प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया  उनमें जूनियर ग्रुप से श्रेयांश सिंह व अंशिका तिवारी तथा सीनियर ग्रुप से हर्षिता पांडे व विनोद चौधरी को वन विभाग एवं जनपद के सर्वोच्च अधिकारियों ने कलेक्ट्रेट में जिला अधिकारी की मौजूदगी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से सीधे वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए मुखातिब कराया गया ।मेधावियों को मुख्यमंत्री द्वारा शुभकामना तथा बधाई भी दी गई । इसी उपलक्ष में पायनियर पब्लिक स्कूल परिसर में सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान रखते हुए प्रतिभा सम्मान समारोह आयोजित किया गया । कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सदर विधायक पलटू राम एवं विशिष्ट अतिथि जिला वन अधिकारी रजनीकांत मित्तल व पर्यावरणविद् डॉ नागेंद्र सिंह को विद्यालय परिवार की ओर से पुष्प गुच्छ एवं मोमेंटो प्रदान कर सम्मानित किया गया । अतिथियों द्वारा मेधावी छात्र छात्राओं के उत्साहवर्धन हेतु प्रमाण पत्र तथा मोमेंटो प्रदान कर सम्मानित किया गया। सम्मानित होने वाले प्रतिभागियों में कला प्रतियोगिता के श्रेयांश सिंह एवं फातिमा रिजवी प्रथम, अली रिजवी व युसूफ रिजवी द्वितीय, सुनैना शुक्ला  व आयुष गुप्ता तृतीय, स्लोगन प्रतियोगिता में  प्राकृत सिंह व विनोद चौधरी प्रथम, आयुष तिवारी व श्रद्धा सोनी दितीय, सुनैना शुक्ला व प्रियंका मोदनवाल तृतीय, स्केच प्रतियोगिता में आदर्श श्रीवास्तव व हर्षिता पांडे प्रथम, श्रेष्ठ पांडे व आयुष गुप्ता द्वितीय, अंशिका तिवारी व आशीष वर्मा तृतीय तथा निबंध प्रतियोगिता में सुनैना शुक्ला वा दीक्षा पासवान प्रथम, अलीना नसीम व आयुष श्रीवास्तव दितीय, फरहत फातिमा व प्रियेश प्रसून मिश्रा ने तृतीय आस्थान प्राप्त किया ।सम्मान समारोह के दौरान प्रबंध निदेशक डॉक्टर एमपी तिवारी, सहायक निदेशक आकाश तिवारी, अध्यक्ष श्रीमती नीता तिवारी, उप प्रधानाचार्य संतोष श्रीवास्तव, प्रमोद श्रीवास्तव, शिखा पांडे, राघवेंद्र त्रिपाठी, अशोक शुक्ला, टीएन शुक्ला, जर्रार खान, राजपाल यादव, डीडी पांडे, एके तिवारी, के के तिवारी, एचबी सिंह, लता श्रीवास्तव, वंदिता शुक्ला, दीक्षा श्रीवास्तव, रूबी त्रिपाठी, नेहा श्रीवास्तव, नीलम श्रीवास्तव, किरण मिश्रा, राजमणि तिवारी, राजू श्रीवास्तव तथा मनोज कुमार शुक्ला सहित अन्य शिक्षणेत्तर कर्मी, छात्र-छात्राएं व उनके अभिभावक मौजूद थे । विधायक पलटू राम ने प्रतिभाग किए छात्र छात्राओं को बधाई दी और कहा कि पर्यावरण तथा वन्य जीव संरक्षण के क्षेत्र में रुचि दिखाकर काफी सराहनीय कार्य किया है। आज के दौर में पर्यावरण सुरक्षा के लिए वन्य जीव तथा वनों का संरक्षण नितांत आवश्यक है। जिला वन अधिकारी रजनीकांत मित्तल ने बच्चों के अंदर पर्यावरण के प्रति लगाव उत्पन्न करने के लिए ऐसे आयोजनों पर बल दिया। उन्होंने कहा कि पर्यावरण एवं वन्य जीव संरक्षण सप्ताह में जिस प्रकार पायनियर पब्लिक स्कूल के बच्चों ने प्रतिभाग किया है, वह काबिले तारीफ है । पर्यावरणविद डॉ नागेंद्र सिंह ने कहा कि पायनियर पब्लिक स्कूल पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में हमेशा प्रयासरत रहा है। वृक्षारोपण कार्यक्रम हो या फिर प्रतियोगिता सभी में बढ़-चढ़कर इस विद्यालय के छात्र छात्राएं प्रतिभाग करते हैं। उन्होंने सलाह दिया कि विद्यालय की ओर से वन क्षेत्र की स्थापना भी होनी चाहिए। कार्यक्रम के अंत में प्रबंध निदेशक डॉक्टर एमपी तिवारी द्वारा आए हुए अतिथियों का आभार व्यक्त किया गया । डॉक्टर तिवारी ने मौजूद सभी छात्र-छात्राओं, अभिभावकों तथा शिक्षक व शिक्षकेतर कर्मियों से कोविडकोबिट 19 गाइडलाइन का पूरी तरह से अनुपालन करने तथा मास्क के बगैर घर से बाहर ना निकलने का सुझाव दिया  । उन्होंने यह भी कहा कि घर में रहते समय हम ज्यादा से ज्यादा साबुन से हाथ धुलें, जिससे कि कोरोना के प्रकोप से खुद भी बचे रहें और दूसरों को भी बचाए रखें । 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *