ओयल डाकघर में आधार कार्ड संशोधन के नाम पर खेला जा रहा है धन उगाही का खेल

जन एक्सप्रेस/सुनहरा।
लखीमपुर खीरी।
ओयल डाक डाकघर बना धन उगाही का अड्डा सरकार की योजना व आधार कार्ड संशोधन से संबंधित सरकारी कर्मचारी करवाते हैं प्राइवेट लड़के से काम आधार कार्ड बनवाना हो या आधार कार्ड का संशोधन करवाना हो तो आधार कार्ड बनवाने वाले व्यक्ति से करी जाती है। धन उगाही व डा खाने में बैठे बाबू बाद में बटवाते हैं। अपना हिस्सा जानकारी के मुताबिक इस कोरोना काल में बिना सोशल डिस्टेंसिंग व बिना मास्क के लगती है लंबी लंबी लाइन की कतारें आए दिन होती है।आधार बनवाने में परेशानी का सामना करना पड़ता है।आम जनता कहीं से भी पैसे इकट्ठा करके आधार कार्ड बनवाने के लिए जाते है और इस योजना में कोई भी सरकारी कर्मचारी आधार कार्ड बनवाने से संबंधित नहीं करता है। कोई कार्य प्राइवेट लड़कों से करवाते हैं वसूली सरकार की योजना कोई भी आधार कार्ड बनाने वाला कर्मचारी सरकारी नहीं है।जिससे आम जनता को हो रही खास दिक्कत उप डाकघर में आधार कार्ड बनवाने के नाम पर ₹150 निर्धारित शुल्क लिया जा रहा है। सरकारी गाइडलाइन के अनुसार डाकघर के बाहर कोई भी सूची नहीं लगी हुई है। जिससे आम जनता अनजान बनी रहे और जितने पैसे मांगे जाएं उतने चुपचाप दे दे गरीब जनता के जेब पर डाका डाले जा रहे। प्राइवेट कर्मचारियों से संतुष्ट बाबू चुप्पी साधे बैठे रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *