अब दावे करना होगी बेमानी, जब अपने ही घर मे भर गया है बारिश का पानी

कोतवाली उतरौला और रजिस्ट्री कार्यालय में भरा पानी

जन एक्सप्रेस संवाददाता

उतरौला बलरामपुर।  बरसात के दिनों में लगातार हो रही बारिश के पानी को निकलने के लिए जितने भी साधन नाले, नाली व तालाब आदि जो  चिन्हित किए गए थे सरकारी अभिलेखों में दर्ज हैं। आज अतिक्रमण के चलते उनका अस्तित्व खत्म हो जाने से क्षेत्र में जितने भी सरकारी दफ्तर जैसे थाना कोतवाली , उप निबंधक कार्यालय, तहसील आदि इन सब विभागों  के परिसर में गांठ गांठ भर पानी भरा हुआ है। इस गंदे पानी से होकर लोगों को  दफ्तरों में जाना  पड़ रहा है जो बहुत ही निंदनीय है। अगर बात करते हैं उप निबंधन कार्यालय की जहां पर जमीन का बैनामा  कराने हेतु महिलाओं के लिए 2% कि स्टाम्प में छूट दी जाती है इसलिए अधिकांश लोग महिलाओं के नाम से ही जमीन का बैनामा कराना चाहते हैं।

जिसके कारण महिलाओं को उप निबंधन कार्यालय में आना पड़ता है। लेकिन जब उन्हें गांठ भर पानी से होकर दफ्तर तक पहुंचना पड़ता है तो उन्हें बहुत ही लज्जा महसूस होती है! यही आलम थाना कोतवाली उतरौला का है जहां परिसर में उप निरीक्षक व  प्रभारी निरीक्षक बैठकर लोगों की समस्याओं को सुनते हैं वहां पूरा पानी ही पानी दिखाई दे रहा है। पानी का आलम यह है कि परिसर में बने आवास के फर्श से मात्र 3 इंच नीचे पानी का स्तर पहुंच चुका है । विभागों के परिसर में घुसे पानी को  निकलवाने की वैकल्पिक व्यवस्था में अधिशासी अधिकारी ने पंपिंग सेट से 2 दिन तक उप निबंधक कार्यालय का पानी खिंचवाया लेकिन पानी का स्तर कम नहीं हुआ। बात करें कोतवाली की तो अधिशासी अधिकारी स्वयं परिसर में बैठकर पानी को खिंचवाने की वैकल्पिक व्यवस्था कर रहे हैं लेकिन ऐसा कब तक? जिन लोगों के घरों व दुकानों में पानी घुस रहा है उसकी व्यवस्था कौन करेगा यह एक यक्ष प्रश्न है। इस संबध में अधिशाषी अधिकारी ने कहा कि अब सड़के ऊची हो गयी है जिसके कारण पानी की निकासी नही हो पा रही है।मिट्टी पटवाने पर ही समस्या का समाधान हो सकता है। फिलहाल  कोतवाली परिसर में पंपिंग सेट लगवा कर पानी खिंचवाने का काम जारी है  लेकिन उपनिबंधक परिसर मे पूरी तरह से पानी भरा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *