लापता युवती का नहीं लगा सुराग गन्ने के खेत में चप्पल रुमाल मिलने से परिजनों को हत्या की आशंका

जन एक्सप्रेस/सिदाकत मंसूरी।
मोहम्मदी-खीरी।
पसगवां कोतवाली क्षेत्र के ग्राम मुड़िया चूरामणी की एक 18 वर्षीय बालिका जो खेत पर धान की सफाई कर रही थी रहस्यमय तरीके से लापता हो गयी। काफी तलाश के उपरान्त भी बालिका का कोई सुराग नहीं लगा रहा। कुछ फासले पर लड़की की चप्पल एक जेन्टस रूमाल व बालिका के कुछ अन्य कपड़े मिले जिससे उसकी गुमशुदगी और रहस्यमय हो गयी। सूचना पर पुलिस शुक्रवार से ही परिवार एवं गांव वालो के साथ लगी है, पास-पड़ोस खेतो, खलिहानो आदि में सघन तलाशी के उपरान्त भी बालिका का कोई सुराग नहीं लग रहा। बिटिया के रहस्यमय ढ़ंग से लापता हो जाने एवं किसी अनहोनी को लेकर उसके घर में कोहराम सा मचा है वही पुलिस भी परेशान व गम्भीर होने का दिखावा कर रही है। शुक्रवार नौ अक्टूबर को पसगवां के ग्राम मूड़िया चूरामणी की एक 18 वर्षीय ‘‘बिटिया’’ जो पास खेतो में धान साफ करने गयी थी और रहस्यमय तरीके से लापता हो गयी। बिटिया के लापता होने की जानकारी जैसे ही परिवार जनो को हुई तो घर में कोहराम सा मच गया। परिवार जनो ने गांव वालो के साथ उसकी तलाश शुरू की। जब कोई सुराग नहीं लगा तो पुलिस को सूचना दी गयी। सूचना पर कोतवाली से सिपाही आये जिन्होने परिवार एवं गांव वालो के साथ बिटिया की छा गये अंधेरे में तलाश शुरू की। जब कोई पता नही लगा तो प्रातः तलाश करने की बात कह कर सिपाही चले गए। आज प्रातः चार सिपाही पुनः गांव आये और फिर तलाश शुरू हुई तो दूर बिटिया की चप्पल, एक जेन्टस रूमाल व गन्ने के खेत में एक अंगवस्त्र पड़ा मिला। जिसने परिवार जनो एवं पुलिस दोनो की चिन्ताए बढ़ा दी। किसी अनहोनी की शंका से परिवार में कोहराम सा मचा है। बिटिया के प्रेम प्रसंग की भी कोई पुष्टि नही हो रही है परिवार जनो से लेकर गांव वाले सभी उसके चाल-चलन को सही बता रहे। फिर बिटिया कहा चली गयी। हाथरस बलरामपुर की घटनाओ को देखकर परिवार जन खासे परेशान है। गांव में भी मातमी सन्नाटा छाया हुआ है। सचामार प्रेषण तक ‘‘बिटिया’’ का कोई सुराग नहीं लगा है पुलिस तथा कथित तलाश में जुटी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *