ऐम्बुलेंस में प्रसूता ने दिया बच्चे को जन्म, कुछ देर में नवजात की मौत

रायबरेली ऊंचाहार । एक प्रसूता को प्रसव पीड़ा शुरू होने पर सीएचसी ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे इलाज ही नहीं दिया प्रदेश सरकार स्वास्थ्य विभाग पर करोड़ों खर्च कर जनता को सही सेवा देने के लिए करती है। पर इसका लाभ आम लोगों को नहीं मिल पाता है,मामला ऊंचाहार सेआया है, दर्द से तड़प रही प्रसूता सीएचसी पहुंचती है पर डॉक्टर ने बिना देखे उसे जिला महिला चिकित्सालय रेफर कर दिया। जिला महिला चिकित्सालय पहुंचते ही प्रसूता ने ऐम्बुलेंस में ही बच्चे को जन्म दे दिया लेकिन उसकी खुशियां ज्यादा देर नहीं रही। बच्चे की थोड़ी देर में ही मृत्यु हो गई।परिवारवालों से पूछने पर परिजनो ने बताया कि यदि सीएचसी में उपचार मिल जाता तो बच्चे की जान बच जाती।ऊंचाहार कोतवाली क्षेत्र के कैथल पूरे गांव ननकू रामसुमेर की बेटी गौरी रक्षाबंधन में अपने मायके आई थी,शुक्रवार को उसको प्रसव पीड़ा होने पर परिवार वाले गौरी को लेकर सीएचसी गए। जहां डॉक्टरों ने बिना देखे उसे जिला अस्पताल रिफर कर दिया। रास्ते भर गौरी प्रसव पीड़ा से तड़पती रही। जिला अस्पताल के गेट पर ऐम्बुलेंस में ही उसने शिशु को जन्म दे दिया परिजनो ने कहा कि सीएचसी के डॉक्टर प्रसव पीड़ा से तड़प रही गौरी का उपचार करते तो माँ-बच्चा दोनों सुरक्षित रहते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *