किसान यूनियन भानू गुट ने तहसील गेट पर लगाई पंचायत राष्ट्रपति का नाम उप जिलाधिकारी को सौंपा

जन एक्सप्रेस संवाददाता

बलरामपुर  ।  जनपद बलरामपुर जिला मुख्यालय के तहसील गेट पर भारतीय किसान यूनियन भानू गुट द्वारा किसान पंचायत का आयोजन किया गया। पंचायत में पहुंचे किसानों ने अपनी मांगों के समर्थन में नारेबाजी की। पंचायत की सात सूत्रीय मांग में प्रमुख रूप से किसान बिल वापस लेना तथा भ्रष्टाचार पर नियंत्रण करना है । 
यूनियन के अध्यक्ष बृजेश विश्वकर्मा ने बताया कि सरकार किसानों की समस्याओं को लेकर संवेदनशील नहीं है । उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा हाल ही में पारित किए गए किसान बिल को किसानों के हित में नहीं बताया। उन्होंने कहा कि यह बिल वापस लिया जाए और उसकी जगह पर किसान आयोग का गठन किया जाए । किसानों के कर्जे को पूरी तरह से माफ किया जाए । चीनी मिलों द्वारा किसानों के गन्ना मूल्य का भुगतान नहीं किया जा रहा है उसे तत्काल कराया जाए। पुलिस उपाधीक्षक शिवप्रसाद जिनकी अभी हाल ही में कोरोना से मौत हुई है उनके परिजनों को 5 करोड़ रुपए सहायता राशि तथा उनके एक परिवार को उसी पद पर नौकरी दिया जाए। संयुक्त अस्पताल तथा महिला अस्पताल में पूरी तरह से व्याप्त भ्रष्टाचार को रोका जाए । अस्पतालों में चिकित्सक खुलेआम मरीजों के साथ लूट कर रहे हैं। अधिकांश चिकित्सक प्राइवेट चिकित्सालय खोलकर दवा कर रहे हैं ऐसे चिकित्सकों पर कड़ी कार्रवाई की जाए । महाराजगंज तराई क्षेत्र में कोटेदारों द्वारा लूट की जा रही है जिसे रोका जाए थाना ललिया के मंगरा कोहल में रेप पीड़िता न्याय के लिए भटक रही है जिसके आरोपियों को तत्काल गिरफ्तारी कर कड़ी सजा दिलाई जाए । उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन उप जिलाधिकारी को सौंपकर समस्याओं के तत्काल निराकरण की मांग की गई है और चेतावनी भी दी गई है कि यदि मांगे मानी नहीं गई तो आर पार की लड़ाई लड़ी जाएगी । 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *