कोरोना का बढ़ता ग्राफ चिंता का विषय, जिलाधिकारी ने जनता से की बचाव की अपील

जन एक्सप्रेस संवाददाता
बलरामपुर । 
जनपद बलरामपुर में कोरोना का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है । तमाम दिशानिर्देशों तथा गाइडलाइन के अनुपालन के लिए किए जा रहे सख्ती के बावजूद भी कोरोना का ग्राफ घटने का नाम नहीं ले रहा है। कोरोना के बढ़ते मरीजों की संख्या पर जिलाधिकारी कृष्णा करुणेश ने चिंता व्यक्त करते हुए जनपद वासियों से कोरोना गाइडलाइन का पालन करने तथा स्वयं व परिवार को कोरोना से बचाने की अपील की है । जिलाधिकारी ने अपने संदेश में जनपद वासियों से अनावश्यक घरों से न निकलने की अपील की है। जिलाधिकारी ने अपील की है कि यदि आवश्यक हो तभी घर से निकले, उस समय मास्क अवश्य पहने तथा कम से कम 1 मीटर सामाजिक दूरी बनाकर रखें। समय-समय पर हाथ धो लें और सैनिटाइजर का  भी प्रयोग करें । 
जिला अधिकारी ने अपने संदेश में कहा है कि जैसा कि सबको पता है कि वर्तमान में कोविड-19 (कोरोना) का संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है। प्रशासन द्वारा निरंतर संक्रमण से बचाव हेतु लोगों को आगाह करते हुए अपनाए जाने वाले मानकों का बृहद रूप में प्रचार प्रसार किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त अन्य कठोर कदम भी उठाए जा रहे हैंं। उसके बाद भी यह पाया गया है कि संक्रमण की दर बढ़ती जा रही है। समीक्षा करने पर पाया गया कि संक्रमित व्यक्तियों में उन व्यक्तियों की संख्या अधिक है जो अपनी बीमारी आदि का इलाज कराने के लिए जनपद बलरामपुर से बाहर गए थे अथवा उनके संपर्क में आए थे। ऐसे व्यक्तियों को संक्रमण उस स्थान से प्राप्त हुआ जहां पर उनके द्वारा यात्रा की गई। ऐसे व्यक्तियों में से कुछ व्यक्तियों की मृत्यु भी हो गई है। ऐसे में खतरा अत्यधिक बढ़ जाने के कारण अत्यधिक सावधानी बरतने की आवश्यकता है। उन्होंने बढ़ते खतरे  को दृष्टिगत रखते हुए बलरामपुर की जनता से अपील की है कि यात्रा करने से बचें। बहुत ही आवश्यक हो तो ही यात्रा करें। अस्पताल में कम से कम लोगों को अपने साथ ले जाएं। किसी क्लीनिक अस्पताल या लैब में जाने पर वहां की वस्तुओं को यदि हाथ लगाएं तो तत्काल हाथ सैनिटाइज करें। लोगों से पर्याप्त दूरी बनाए रखें तथा सदेव मास्क का प्रयोग करें। गंभीर बीमारी से पीड़ित वृद्ध बच्चों तथा जिनकी प्रतिरोधक क्षमता कम है उनके लिए यात्रा करना अत्यधिक खतरनाक हो सकता है। यदि आप ऐसे किसी स्थान पर यात्रा करके आते हैं,  तो अपने आप को 14 दिन के लिए घर में ही आइसोलेट कर लें तथा इन दिनों के बीच यदि खांसी जुकाम बुखार या अन्य कोई दिक्कत आती है तो तत्काल निकटतम प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र या आशा बहू एनम को इसकी जानकारी उपलब्ध करा कर अपनी जांच कराएं। इस प्रकार आप अपने और अपने परिवार को सुरक्षित रख सकते हैं। थोड़ी सी लापरवाही भी आप पर और आपके परिवार पर भारी पड़ सकती है। इसलिए निर्धारित मानकों का पालन अवश्य करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *