पुलिस की लचर व्यवस्था के चलते गुस्से में दिखे चौधरी सुखराम सिंह

जन एक्सप्रेस/धरमवीर
कानपुर नगर।
शातिर बदमाशों से गच्चा खाई कानपुर की बर्रा थाना पुलिस की लचर व्यवस्था के कारण गुस्से में बीते दिन राज्यसभा सांसद चौधरी सुखराम सिंह यादव गुस्से में दिखे ।
विदित हो कि बर्रा 5 निवासी पान की दुकान चलाने वाले चमन यादव का बेटा संजीत 22 जून को बाइक समेत लापता हो गया था । तीन दिन बाद पिता को फोन कर बदमाशों ने 30 लाख की फिरौती मांगी। चमन ने जानकारी पुलिस को दी बदमाशों को पकडऩे के लिए पुलिस ने प्लान तैयार कर 30 लाख की व्यवस्था करने को कहा, चमन रकम लेकर निकले तो पुलिस भी पीछे थी बदमाशों ने फिरौती की रकम के साथ पहले उन्नाव अचलगंज चौराहे पर बुलाया यहां पहुंचने पर उन्हें वापस रामादेवी चौराहे पर बुलाया फिर नौबस्ता चौराहे पर बुलाया और करीब एक घंटे इंतजार कराया इसके बाद फोन कर उन्हें गुजैनी हाईवे पर बुलाया। रात करीब 8 बजे हाईवे के ऊपर पहुंचने पर बदमाश ने फोन कर उनसे नीचे से गुजर रही रेल पटरी पर बैग फेकने को कहा उन्होंने बैग नीचे फेंक दिया जब तक पुलिस नीचे उतरकर पहुंची बदमाश रुपयों से भरा बैग लेकर फरार हो गए और पुलिस हाथ मलती रह गई थी।
उक्त प्रकरण में राज्य सभा सांसद चौधरी सुखराम सिंह यादव पीडि़त परिवार से मिलने घर पहुंचे। सांसद ने पत्रकारों से बातचीत में उत्तर प्रदेश पुलिस को घेरते हुए कहा कि पुलिस की बड़ी लापरवाही है। छोटे छोटे मामलों को पुलिस गुड वर्क बता कर वाहवाही लूटती है। संगीन अपराध में पुलिस की लचर व्यवस्था से माननीय जी गुस्से में दिखे। उन्होंने कहा कि अधिकारियों से बात करेंगे, जरूरत पड़ी तो जन आंदोलन करेंगे, सदन में भी इन गम्भीर मामलों को उठायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *