जल जीवों की लगातार मौत पर प्रशासन मौन

जन एक्सप्रेस / पिंटू सिंह

कानपुर नगर। शहर के पनकी थाना क्षेत्र  अंतर्गत आने वाले ऐतिहासिक कछुआ तालाब में फिर एक उम्र दराज 80 किलो वजनी 110 वर्ष की आयु के कछुए की जान चली गई।प्रशासनिक लापरवाही के चलते लगातार जलजीवों की मौत हो रही है; फिर भी प्रशासन मौन साधे हुए है।प्रशासन सुंदरीकरण के नाम पर जल जीवों की मौत का खेल खेल रहा है स्पष्ट रूप से इसमें प्रशासनिक अधिकारियों की हीला हवाली सामने आ रही है! अब तक सैकड़ों कछुआ और मछलियों की मौत हो चुकी है यहां तक की मौत होने के बाद भी प्रशासन ने किसी भी मृत जलजीव का पोस्टमार्टम नहीं कराया है और ना ही मौतों के पीछे का कारण जानने का किसी प्रकार का कोई प्रयास किया अब यह सोचने वाली बात है अगर जलजीव ही नहीं रहेंगे तो सुंदरीकरण से क्या लाभ आगे आने वाले समय में अगर ऐसा ही चलता रहा तो ऐतिहासिक कछुए तालाब का नामो निशान मिट जाएगा और वह तालाब वीरान हो जाएगा सैकड़ों जीवो की जाने जाने के बाद भी प्रशासनिक अधिकारी आंखें मूंदे हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *