करंट से मौतों का आखिर जिम्मेदार कौनः शिव प्रकाश सिंह

सीतापुर। बिजली विभाग की लापरवाही से मौतें हो रही हैं। आखिर इसका जिम्मेदार कौन है। उपकेंद्र झरेखापुर के तहत विभाग द्वारा जमकर लापरवाही की जा रही है। इस वजह से किसान मंच धरना देने को मजबूर है। यह बात किसान मंच के जिलाध्यक्ष शिव प्रकाश सिंह ने झरेखापुर उपकेंद्र पर धरने के दौरान कही।
किसान मंच जिला अध्यक्ष शिव प्रकाश सिंह ने कहा कि विभाग की अनदेखी के चलते आए दिन किसानों को समस्याओं से जूझना पड़ रहा है। दसियो वर्ष पुराने जर्जर लोहिया तारों से तमाम लोगो की मौत हो चुकी है। 14 अक्टूबर को धन्नाग गांव की निवासिनी किरन देवी की अपने खेत में धान काटने के दौरान करंट से मौत हो गई थी। ऐसी बहुत सी दुर्घटनाओं के लिए जिम्मेदार विद्युत विभाग को अविलंब जर्जर लोहिया तारों को बदलने के साथ दो सौ मीटर की दूरी पर लगे खंभों की दूरी सुरक्षा हेतु पच्चास मीटर पर खंभे लगाकर क्षेत्रीय लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित की जाए। जिला सचिव उत्तम मौर्य ने कहा कि नरसोही गांव में आबादी से होकर निकली ग्यारह हजार की लाइन को स्थानांतरित कर विद्युत लाइन नहर के किनारे निकाली जाए। युवा प्रकोष्ठ जिलाध्यक्ष शैलेन्द्र राज ने कहा कि झरेखापुर उपकेंद्र को बिसवां खंड से जोड़ा जा रहा है। जबकि यहां से बिसवां की दूरी चालीस किलोमीटर है। क्षेत्रीय जनता अपनी समस्याओं के लिए इतनी दूर जाने में सक्षम नहीं है। इस निर्णय का कारण समझ से परे है। जिला सचिव विजय सिंह ने कहा कि आबादी क्षेत्र से निकली ग्यारह हजार की लाइनें केबिल तार या जाल लगाया जाए। धरने पर राम सिंह, निर्मल सिंह, अनुराग सिंह, गुरु प्रसाद, सुरेन्द्र सिंह, विपिन सिंह, शरीफ प्रधान नरसोही, अमित सिंह, शिवम, हरिश्चंद्र मौर्य आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *